Pm Modi Chhattisgarh Visit:बीजेपी के लिए क्यों खास है बिलासपुर संभाग, क्यों अहम है पीएम नरेंद्र मोदी का दौरा? – Pm Modi Chhattisgarh Visit: Why Is Bilaspur Division Special For Bjp, Why Is Pm Narendra Modi’s Visit Import

0
3

[ad_1]

PM Modi Chhattisgarh Visit: Why is Bilaspur division special for BJP, why is PM Narendra Modi's visit import

पीएम नरेंद्र मोदी
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

विस्तार


छत्तीसगढ़ में चुनावी सभा और तैयारियों जोरों पर हैं। पीएम नरेंद्र मोदी 15 दिन के अंदर दूसरी बार छत्तीसगढ़ आ रहे हैं। वो 30 सितंबर को बिलासपुर के सीपत रोड स्थित साइंस कॉलेज मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। बीजेपी की परिवर्तन रथ यात्रा के समापन पर भाजपा कार्यकर्ताओं में उत्साह भरेंगे। उनका मनोबल बढ़ाएंगे। पीएम मोदी का ये तीसरा छत्तीसगढ़ दौरा है। 3 दिन बाद 3 अक्टूबर को जगदपुर में फिर चुनावी बिगुल फूंकेंगे। बीजेपी ने बिलासपुर में होने वाले कार्यक्रम का नाम परिवर्तन महासंकल्प रैली रखा है। बीजेपी इस रैली को ऐतिहासिक बनाने में लगी है। 

चुनावी साल में रायपुर संभाग के बाद बिलासपुर संभाग में पीएम मोदी की ये दूसरी चुनावी सभा है। ऐसे में विधानसभा चुनाव से हिसाब से बेहद अहम मानी जा रही है। यहां पर पीएम मोदी कुछ बड़े एलान भी कर सकते हैं। संभाग के मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं। बीजेपी कार्यकर्ताओं को पीएम मोदी की सभा में करीब 1 लाख से ज्यादा भीड़ जुटाने का टारगेट दिया गया है। 

बिलासपुर संभाग में पीएम मोदी का ये दूसरा दौरा है। इससे पहले पीएम 14 सितंबर को रायगढ़ के कोड़ातराई में चुनावी सभा को संबोधित किए थे। इस दौरान छत्तीसगढ़ को कई केंद्रीय योजनाओं की सौगात दी थी। इसके पूर्व 7 जुलाई को प्रदेश की राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में चुनावी सभा को संबोधित किया था। इस दौरान ‘बदलबो-बदलबो, ए दारी कांग्रेस सरकार ल बदलबो’ का नारा दिया था। 

CG Election 2023: बीजेपी के लिए क्यों खास है बिलासपुर संभाग?, क्यों अहम है पीएम नरेंद्र मोदी का दौरा? यहां पर जानें चुनावी राजनीतिक समीकरण…

जारी हो सकती है बीजेपी की दूसरी सूची

सियासी गलियारे में इस बात की भी चर्चा है कि यदि बीजेपी चुनाव समिति से बीजेपी प्रत्याशियों की दूसरी सूची फाइनल हो गई तो ऐसे में 30 सितंबर को ही मंच से पीएम मोदी इसकी घोषणा कर सकते हैं। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी के दौरे का चुनावी लाभ लेने के लिए 24 सीटों के प्रत्याशियों में से कुछ चुनिंदा प्रत्याशियों का एलान हो सकता है। क्योंकि यहां के नेताओं को चुनावी सभा में बुलाया गया है। हालांकि ये सब चुनाव समिति से दूसरी सूची के फाइनल होने पर ही संभव है।

बिलासपुर पहुंचा मोदी का विशेष रथ

पीएम मोदी जिस विशेष रथ का उपयोग करते हैं, वह बिलासपुर पहुंच चुका है। बताया जाता है कि पीएम हेलीपैड से ही रथ पर सवार होकर मंच तक पहुंचेंगे। इस दौरान इस दौरान पंडाल के बीचो-बीच से पीएम मोदी का रथ निकलेगा ताकि वहां कुर्सियों पर बैठे लोग पीएम मोदी को नजदीक से देख सकें। 

बिलासपुर संभाग का राजनीतिक समीकरण 

प्रदेश का सबसे बड़ा संभाग बिलासपुर है। 8 जिलों के संभाग में यहां छत्तीसगढ़ की सबसे ज्यादा 24 विधानसभा सीटें हैं। इनमें 14 सीट पर कांग्रेस, 7 पर बीजेपी, 2 पर बसपा और 1 पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़-जे (जेसीसीजे) का कब्जा है। वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी कांग्रेस से पीछे रह गई थी। दूसरी ओर कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ नेता और लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह को बहुत पहले ही जेसीसीजे ने पार्टी से निष्कासित कर दिया है। वर्तमान में वो बीजेपी में शामिल हो गए हैं। ऐसे में बीजेपी बिलासपुर संभाग में अपनी स्थिति बेहतर करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। प्रदेश के 11 लोकसभा सीट में से 4 लोकसभा सीट अकेले बिलासपुर संभाग में ही हैं। इसमें 3 पर बीजेपी और 1 पर कांग्रेस काबिज है। ऐसे में बीजेपी विधानसभा के साथ ही लोकसभा चुनाव पर भी फोकस की हुई है। बिलासपुर संभाग में बिलासपुर से बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, जांजगीर चांपा से विधानसभा नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, सीनियर नेता अमर अग्रवाल, बीजेपी महामंत्री और पूर्व आईएएस ओपी चौधरी भी इसी संभाग से आते हैं। इस वजह से यहां पर इन नेताओं की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी है। 

बिलासपुर संभाग में पीएम मोदी समेत इन दिग्गज नेताओं का हो चुका है दौरा

पीएम मोदी के दौरे से पहले बिलासपुर संभाग के जांजगीर चांपा में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे,  25 सितंबर को बिलासपुर में राहुल गांधी और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल चुनावी सभा कर चुके हैं। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी 14 सितंबर को बिलासपुर संभाग की स्टील नगरी रायगढ़ के कोड़ातराई में बड़ी चुनावी सभा कर लोगों से कांग्रेस सरकार को सत्ता से बेदखल करने की अपील कर चुके हैं। इसलिए ये माना जा रहा है कि बिलासपुर संभाग के 24 सीटों पर सभी राजनीतिक पार्टियों की पैनी नजर है। 

यूपी-बिहार के वोटर्स पर फोकस

बिलासपुर संभाग में उद्योग-धंधे और स्टील पॉवर प्लांट के बड़ी संख्या में होने से यहां पर लाखों की संख्या में यूपी-बिहार के लोग निवासरत हैं। ऐसे में यूपी-बिहार के वोटर्स पर बीजेपी की नजर है। वो हर हाल में इन वोटर्स को अपनी तरफ खींचने की तैयारी में है। उन्हें लुभाने की जुगत में है। बिलासपुर में स्टील पॉवर प्लांट, सक्ती में स्टील पॉवर प्लांट और रायगढ़ में जिंदल स्टील पॉवर प्लांट समेत कई कारखानों में बड़ी सख्या में यूपी-बिहार और झारखंड के लोग काम कर रहे हैं। ऐसे में इन वोटर्स पर बीजेपी की नजर है। 

सत्ता परिवर्तन का शंखनाद करेंगे पीएम मोदी

छत्तीगगढ़ बीजेपी ने दंतेवाड़ा और जशपुर नगर से दो परिवर्तन यात्रा की शुरुआत की थी, जो राज्य के 90 विधानसभा सीटों से होते हुए 30 सितंबर को बिलासपुर पहुंची हैं। पहली यात्रा 12 सितंबर को दंतेश्वरी मंदिर दंतेवाड़ा से शुरू होकर बस्तर संभाग, दुर्ग और रायपुर संभाग होते हुए बिलासपुर पहुंची है। वहीं दूसरी यात्रा 15 सितंबर को जशपुर नगर से शुरू होकर सरगुजा और बिलासपुर संभाग के विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए 30 सितंबर को बिलासपुर के रतनपुर पहुंची है। अब पीएम मोदी बीजेपी की परिवर्तन यात्रा के समापन पर सत्ता परिवर्तन का शंखनाद करेंगे। 

2 दिन पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ली थी  7 घंटे तक हाईलेवल बैठक 

दूसरी ओर पीएम मोदी के छत्तीसगढ़ दौरे से दो दिन पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रायपुर में बीजेपी की 7 घंटे तक हाईलेवल बैठक ली थी। इसमें पीएम मोदी के दौरे की तैयारियों को लेकर समीक्षा की गई। बंद कमरे में विधानसभा चुनाव जीतने के लिए रणनीति बनाई गई। 

 

[ad_2]

Source link

Letyshops [lifetime] INT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here