Vitamin-e:ऐसे लोगों के लिए किसी ‘रामबाण’ से कम नहीं है विटामिन-ई, कई बीमारियों से बचाने में ये सुरक्षाकवच – Vitamin E Helps In Skin And Lungs Problem Know Vitamin E Deficiency Treatment

0
7

[ad_1]

स्वस्थ और पौष्टिक आहार न सिर्फ हमें बेहतर फिटनेस और स्वास्थ्य प्रदान करते हैं साथ ही ये कई बीमारियों से बचाने में भी हमारे लिए लाभकारी हैं। क्या आपको अपने आहार से शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्व मिल पा रहे हैं। डॉक्टर कहते हैं, अक्सर हम सभी विटामिन-सी और डी की आवश्यकताओं के बारे में तो चर्चा कर लेते हैं, पर कुछ अन्य पोषक तत्वों को लेकर ज्यादा बात नहीं की जाती है, विटामिन-ई उनमें से एक है। विटामिन-ई, हमारे शरीर के लिए कई प्रकार से आवश्यक है, इतना ही नहीं ये कई गंभीर बीमारियों से बचाने में भी मददगार है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, विटामिन-ई एक प्रकार की एंटीऑक्सीडेंट भी है जो शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाली क्षति को कम करने में मदद करती है। फ्री रेडिकल्स, कोशिकाओं को क्षति पहुंचाते हैं जिससे कई प्रकार की क्रोनिक बीमारियों, यहां तक कि कैंसर तक का भी खतरा हो सकता है। आइए जानते हैं, विटामिन-ई का उचित सेवन किन बीमारियों से बचाने में आपके लिए मददगार हो सकती है?

त्वचा की बीमारियों से बचाती है विटामिन-ई

त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन-ई का नियमित मात्रा में सेवन सुनिश्चित किया जाना चाहिए। एक्जिमा जैसे त्वचा विकारों के शिकार लोगों को विटामि-ई सप्लीमेंट्स लेने की सलाह दी जाती है। अध्ययनकर्ता बताते हैं, अगर आप आहार के माध्यम से इस विटामिन को प्राप्त करते हैं तो ये त्वचा को लंबे समय तक स्वस्थ बनाए रखने में भी आपके लिए मददगार हो सकती है। 

मस्तिष्क रहता है स्वस्थ

मस्तिष्क को स्वस्थ रखने और कई प्रकार की न्यूरोलॉजिकल समस्याओं के जोखिमों को कम करने में विटामिन-ई को काफी मददगार माना जाता है। शोधकर्ताओं ने पाया इस विटामिन वाली चीजों का सेवन सुनिश्चित करके संज्ञानात्मक स्वास्थ्य में लाभ मिल सकता है। इतना ही नहीं समय के साथ मस्तिष्क में होने वाली समस्याओं को दूर करने में भी विटामिन-ई वाली चीजों का सेवन करना फायदेमंद है। कुछ शोध बताते हैं, अगर आप नियमित रूप से आहार में विटामिन ई वाली चीजों की मात्रा सुनिश्चित करते हैं तो ये अल्जाइमर जैसे रोगों से बचाने में भी लाभकारी हो सकती है।

लिवर की बढ़ती बीमारियों से मिल सकती है सुरक्षा

लाइफस्टाइल और आहार में गड़बड़ी के कारण लिवर से संबंधित समस्याओं के बढ़ने का खतरा रहता है। वैश्विक स्तर पर नॉन अल्कोहलिक फैटी लिवर डिजीज जैसी लिवर की बीमारियों के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अध्ययनों की समीक्षा में पाया गया कि विटामिन-ई सप्लीमेट्स लिवर एंजाइम एलेनिन एमिनोट्रांस्फरेज़ (एएलटी) और एस्पार्टेट एमिनोट्रांस्फरेज़ (एएसटी) और ब्लड लिपिड के स्तर को कम करने में लाभकारी हो सकते हैं। 

सप्लीमेंट्स की जगह आहार से प्राप्त करें विटामिन्स

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, किसी भी विटामिन को सप्लीमेंट्स की जगह इसके प्राकृतिक स्रोतों से प्राप्त करना अधिक लाभकारी माना जाता है। विटामिन-ई वसा में घुलनशील विटामिन है। वनस्पति तेलों, साबुत अनाज, मांस, पोल्ट्री, अंडे और फलों से इसे आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। स्वस्थ और पौष्टिक आहार का सेवन आपको विटामिन-ई के साथ शरीर के लिए जरूरी अन्य पोषक तत्व भी प्रदान करते हैं। 

—————–

नोट: यह लेख स्वास्थ्य विशेषज्ञों के सुझावों के आधार पर तैयार किया गया है। 

अस्वीकरण: अमर उजाला की हेल्थ एवं फिटनेस कैटेगरी में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टर, विशेषज्ञों व अकादमिक संस्थानों से बातचीत के आधार पर तैयार किए जाते हैं। लेख में उल्लेखित तथ्यों व सूचनाओं को अमर उजाला के पेशेवर पत्रकारों द्वारा जांचा व परखा गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी तरह के निर्देशों का पालन किया गया है। संबंधित लेख पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। अमर उजाला लेख में प्रदत्त जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें। 

[ad_2]

Source link

Letyshops [lifetime] INT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here